महात्मा गाँधी के जीवन की प्रमुख घटनाएं

महात्मा गाँधी के जीवन की प्रमुख घटनाएं
तिथि-माहवर्षमहात्मा गाँधी के जीवन की प्रमुख घटनाएं ।
02 अक्टूबर1869 पोरबंदर में जन्म।
1882 कस्तूरबा बाई के साथ विवाह।
29 सितम्बर 1888 अध्ययन के लिये इंग्लैण्ड पहुंचे।
27 मई 1891 बार चैम्बर में निमंत्रण।
25 मई1893दक्षिण अफ्रीका के डरबन, नेटाल पहुंचे।
26 मई1893 सिर से पगड़ी हटाने से इंकार किया,न्यायालय से निकल गये।
31 मई1893 पीटर मारिट्जबर्ग ट्रेन के प्रथम श्रेणीडिब्बे से बाहर फेंके गये।
22 अगस्त 1894 नेटाल ओपिनियन कांग्रेस की स्थापना की।
04 जून 1903 इण्डियन ओपनियन पत्र प्रथम बारप्रकाशित हुआ।
20 जुलाई1906 ब्रह्मचर्य की शपथ ली।
11 सितम्बर1906ब्लैक एक्ट के विरोध में लोगों को एकत्रित कर जोहान्सबर्ग में सत्याग्रह का प्रयोग किया।
22 मार्च1908सत्याग्रह शब्द को अपनाया गया।
10 जनवरी1908अफ्रीका में पंजीकरण कराने से इंकार करने पर दो माह का साधारण कारावास।
30 जनवरी1908अफ्रीका सरकार ने कारावास की सजा पूर्ण होने से पहले ही समझौता कर लिया।
14 अक्टूबर1908अफ्रीका के ट्रांसवाल में परमिट के बिना घुसने पर दो माह की सख्त सजा।
22 अक्टूबर1912गोपाल कृष्ण गोखले का दक्षिण अफ्रीका दौरा प्रारम्भ।
23 सितम्बर1913 कस्तूरबा गाँधी को तीन महीने का कारावास।
तिथि-माहवर्षमहात्मा गाँधी के जीवन की प्रमुख घटनाएं ।
18 दिसंबर1913गांधी जी को बिना शर्त रिहा किया गया।
22 दिसंबर 1913कस्तूरबा गांधी को रिहा किया गया।
26 जून1914दक्षिण अफ्रीका सरकार द्वारा इण्डियनरिलीफ बिल 1914 पास किया गया।
09 जनवरी1915गांधी जी भारत लौटे।
17 फरवरी1915शांति निकेतन में रवीन्द्रनाथ टैगोर से मिले।
20 मई1915कोछराब में सत्याग्रह आश्रम की स्थापना की जहाँ 11 सितम्बर
1915 को प्रथम दलित परिवार ने आश्रम में दाखिला लिया।
06 फरवरी1916बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी में व्याख्यान दिया।
26 दिसम्बर1916लखनऊ अधिवेशन में नेहरू से पहलीबार मिले।
10 अप्रेल1917राजकुमार शुक्ला के निमंत्रण परचम्पारण जाने के लिये पटना पहुँचे।
18 अप्रेल1917चम्पारण के किसानों की समस्या के लिये स रकारी आज्ञा का उल्लंघन किया और न्यायालय में बयान दिया।
17 जून1917साबरमती आश्रम की स्थापना।
15 मार्च1918कपड़ा मिल मजदूरों की हड़ताल केसमर्थन में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल।
22 मार्च1918गुजरात के नाडियाड में 5 हजार किसानोंकी सभा में भू-राजस्व नहीं देने का
आह्वान किया।
24 फरवरी1919रोलेट एक्ट के विरोध में सत्याग्रह की शपथ ली।
तिथि-माहवर्ष महात्मा गाँधी के जीवन की प्रमुख घटनाएं ।
06 अप्रेल1919रोलेट एक्ट के विरोध में देश व्यापीहड़ताल और सत्याग्रह।
09 अप्रेल1919पलवल स्टेशन पर गिरफ्तार किये गये।
13 अप्रेल1919जलियांवाला बाग में भीषण नरसंहार,गांधी जी ने तीन दिन का उपवास
अहमदाबाद में किया।
07 सितम्बर1919नवजीवन का प्रथम अंक प्रकाशित हुआ।
08 अक्टूबर1919यंग इण्डिया का प्रथम अंक प्रकाशित हुआ।
02 अगस्त1920असहयोग आन्दोलन प्रारम्भ हुआ।
29 जनवरी1922सरदार पटेल के नेतृत्व में बारडोली के किसान आन्दोलन का समाधान।
10 मार्च1922गांधी जी गिरफ्तार किये गये और 6साल की सजा हुई।
30 मार्च1922यरवड़ा जेल भेजे गये।
05 फरवरी1924बिना शर्त रिहा किये गये।
17 सितम्बर1924साम्प्रदायिक सद्भाव के लिये दिल्ली में 21 दिन का उपवास।
26 दिसम्बर1924 बेलगाम अधिवेशन में अध्यक्ष चुनेगये।
03 फरवरी1928साईमन कमीशन का बॉयकाट।
31 अक्टूबर1929वायसराय लॉर्ड इर्विन द्वारा गोलमेजसम्मेलन की घोषणा।
27 दिसम्बर1929लाहौर अधिवेशन में पूर्ण स्वराज्य काप्रस्ताव स्वीकार किया गया।
तिथि-माहवर्षमहात्मा गाँधी के जीवन की प्रमुख घटनाएं ।
12 मार्च – 06 अप्रेल1930दाण्डी मार्च यात्रा सम्पन्न करके नमक कानून तोड़ा।
05 मई1930गिरफ्तार कर यरवड़ा जेल भेजे गये।
26 जनवरी1931 जेल से रिहा किये गये।
05 मार्च1931गांधी-इर्विन समझौता।
12 सितम्बर1931दूसरे गोलमेज सम्मेलन में भाग लेनेलन्दन पहुँचे।
05 नवम्बर1931जॉर्ज पंचम के निमंत्रण पर बकिंघमपैलेस महल में स्वागत हुआ।
13 नवम्बर1931प्रस्तावित कम्यूनल अवार्ड का विरोधकिया।
12 दिसम्बर1932रोम में मुसोलिनी से मिले।
01 जनवरी1932वर्किंग कमेटी द्वारा सविनय अवज्ञा आन्दोलन का प्रस्ताव स्वीकार किया गया।
04 जनवरी1932वल्लभ भाई पटेल के साथ गिरफ्तार करयरवड़ा जेल भेजे गये।
20 सितम्बर1932ब्रिटिश सरकार द्वारा कम्यूनल अवार्डघोषित करने के विरोध में आमरण अनशन।
24 सितम्बर1932पूना पेक्ट पर हस्ताक्षर किये गये एवंअनशन समाप्त किया गया।
30 सितम्बर1932हरिजन सेवक संघ’ की स्थापना।
11 फरवरी1933हरिजन पत्र का प्रकाशन प्रारम्भ।
08 मई1933आत्म-शुद्धि के लिये बिना शर्त 21 दिनका उपवास प्रारम्भ।
01 अगस्त1933अहमदाबाद में गिरफ्तार किये गये औरयरवड़ा जेल भेजे गये।
तिथि-माहवर्ष महात्मा गाँधी के जीवन की प्रमुख घटनाएं ।
07 नवम्बर1933राष्ट्रव्यापी हरिजन यात्रा प्रारम्भ की गई।
09 मई1934उड़ीसा में पद यात्रा की।
25 जून1934पूना में गांधी जी की गाड़ियों के काफिलेपर बम फेंका गया।
12 नवम्बर1936त्रावणकोर के मंदिर हरिजनों के लियेखोले गये।
23 जुलाई1939युद्ध के खतरे को टालने के लिये हिटलरको पत्र लिखा।
11 अक्टूबर1940सेवाग्राम में वर्किंग कमेटी की बैठक में वयक्तिगत सत्याग्रह प्रस्तावित किया
गया।
27 मार्च1942क्रिप्स मिशन को इंग्लैण्ड वापस जाने के लिये कहा गया।
14 जुलाई1942ब्रिटिशर्स को भारत से जाने का प्रस्ताव पारित किया।
08 अगस्त1942 ‘भारत छोड़ो’ का नारा दिया गया और ‘करो या मरो’ का आह्वान किया गया।
09 अगस्त1942गांधी जी एवं बड़ी संख्या में राजनैतिक कार्यकर्ता गिरफ्तार किये गये,
गांधी जी को आगा खाँ महल में रखा गया।
10 फरवरी194321 दिन का उपवास प्रारम्भ किया गया।
22 फरवरी1944कस्तूरबा गांधी का निधन।
06 मई1944जेल से रिहा किये गये।
25 जून1946संविधान सभा के गठन का प्रस्तावपारित किया।
तिथि-माह वर्षमहात्मा गाँधी के जीवन की प्रमुख घटनाएं ।
02 सितम्बर1946पण्डित नेहरू के नेतृत्व में 12 सदस्यीय अंतरिम सरकार का गठन।
06 नवम्बर1946गांधी जी नोआखली के दंगों को रोकने के लिये पहुँचे।
02 जनवरी1947नोआखली में पदयात्रा की।
30 मार्च1947बिहार के दंगा प्रभावित गांवों का दौराकिया।
31 मार्च1947भारत के नये वायसराय लॉर्ड माउन्टबेटन से मिले।
01 अप्रेल1947एशियन रिलेशन्स कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित किया।
15 अगस्त1947स्वतंत्रता दिवस के दिन गाँधी जी ने कलकत्ता में उपवास रखा और प्रार्थना की।
31 अगस्त से 04 सितम्बर तक1947 साम्प्रदायिक दंगों के विरोध में कलकत्ता में अनिश्चितकालीन उपवास।
09 सितम्बर1947दिल्ली पहुंचे।
20 जनवरी1948बिड़ला हाउस में प्रार्थना सभा के समयबम फेंका गया।
30 जनवरी1948नाथूराम गोडसे ने गोली मारकरराष्ट्रपिता महात्मा गांधी की निर्मम हत्या कर दी
और …
बापू हे राम! पुकारते हुए संसार से विदा हो गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: © RajRAS