श्री नितिन गडकरी ने राजस्थान में 18 राजमार्ग परियोजनाओं का शुभारम्भ और शिलान्यास किया

श्री नितिन गडकरी ने राजस्थान में 18 राजमार्ग परियोजनाओं का शुभारम्भ और शिलान्यास किया

केन्द्रीय सड़क परिवहन, राजमार्ग और एमएसएमई मंत्री श्री नितिन गडकरी ने राजस्थान में 18 राजमार्ग परियोजनाओं का शुभारम्भ और शिलान्यास किया; उन्होंने कहा कि राज्य के सभी जिले अब राष्ट्रीय राजमार्गों से जुड़ चुके हैं।

केन्द्रीय सड़क परिवहन, राजमार्ग और एमएसएमई मंत्री श्री नितिन गडकरी ने आज राजस्थान में 18 राजमार्ग परियोजनाओं का शुभारम्भ और शिलान्यास किया। राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने इस वर्चुअल समारोह की अध्यक्षता की, जिसमें केन्द्रीय मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत, जनरल (सेवानिवृत्त) वी के सिंह, श्री अर्जुन राम मेघवाल, श्री कैलाश चौधरी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर, राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे और राज्य के कई मंत्रियों ने भाग लिया।
ये 1,127 किलोमीटर लंबी सड़क परियोजनाएं हैं और इनके निर्माण पर कुल 8,341 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इन परियोजनाओं से राज्य के भीतर और बाहर वाणिज्यिक सामानों का परिवहन आसान हो जाएगा, जिससे सीमाओं पर संपर्क में सुधार होगा, रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, समय और ईंधन की बचत होगी, पर्यटन और बुनियादी ढांचा विकास में सुधार होगा। इसके परिणामस्वरूप कृषि उपजों के लिए बड़े बाजारों तक संपर्क भी उपलब्ध होगा।

इनका किया लोकार्पण
जयपुर रिंग रोड़ (आगरा रोड़ से अजमेर रोड़ के बीच) पर 6 लेन सड़क, दौसा-लालसोट-कोथून खण्ड के फोर-लेन चौड़ाईकरण दो-लेन-पेव्ड शोल्डर के साथ, सुंदरा-म्याजलार-धनाना-अस्तर-घोटारू-तनोट खंड में मुनाबाव से दो-लेन पेव्ड शोल्डर कार्य, बावड़ी कलां-सरवा-साता बखासर खंड में गागरिया से एवं साता से गांधव तक दो-लेन पेव्ड शोल्डर कार्य, कोटा-दरा खंड, बालोतरा-सांडेराव खंड (बालोतरा से मोकलसर तक), बालोतरा-सांडेराव खंड (मोकलसर से जालौर तक), बालोतरा-सांडेराव खंड (आहोर से सांडेराव तक), राजगढ़ से हरियाणा बॉर्डर खंड, वजवाना-बांसवाड़ा खंड, नागौर बायपास।

इनका किया शिलान्यास
जयपुर रिंग रोड़ पर टोंक रोड़ एवं अजमेर रोड़ पर क्लोवरलीफ का निर्माण कार्य, नागौर-बीकानेर खंड पर दो-लेन पेव्ड शोल्डर का निर्माण कार्य, अजमेर-नागौर खंड पर दो-लेन पेव्ड शोल्डर का निर्माण कार्य, ब्यावर-आसींद खंड पर दो-लेन पेव्ड शोल्डर का निर्माण कार्य, आसींद-माण्डल खंड पर दो-लेन पेव्ड शोल्डर का निर्माण कार्य, ब्यावर-गोमती खंड पर फोर-लेन पेव्ड शोल्डर का निर्माण कार्य (ब्यावर से भीम तक), ब्यावर-गोमती खंड पर फोर-लेन पेव्ड शोल्डर का निर्माण कार्य (भीम से बघाना तक एवं मादा की बस्सी से गोमती तक)।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: © RajRAS