राजस्थान में भैंस | भैंस की नस्ल – सूरती, मुर्रा

राजस्थान में भैंस | भैंस की नस्ल – सूरती, मुर्रा

भैंस पालन में राजस्थान देश में दूसरे स्थान पर आता हैं। भारत की समस्त भैंसों (109.85 मिलियन) का लगभग 12.47 प्रतिशत भाग राजस्थान में पाया जाता है। तथा राजस्थान की कुल पशु-सम्पदा में भैंस की संख्या लगभग 24.11 प्रतिशत है।

Read this article in English

भैंस की प्रमुख नस्ले

भैंस की प्रमुख नस्ले इस प्रकार है:

सूरती भैंस

सूरती भैंस

अन्य नाम – डेक्कानि, गुजराती, तलब्दा, चरतोर व नदिआदि
मूल स्थान – गुजरात
प्रमुख स्थान – राजस्थान में यह नस्ल उदयपुर के आसपास व दक्षिण भाग में पाई जाती हैं।

मुर्रा भैंस

मुर्रा भैंस

अन्य नाम – खुंडी, काली
देशभर में पाई जाने वाली भैसों की नस्लों में यह नस्ल अधिक दूध देने के लिए प्रसिद्ध हैं।
इसके दूध मे वसा की मात्रा 7-8 प्रतिशत होने के कारण घी भी निकलता है।

राजस्थान में भैंस अनुसन्धान केंद्र

  • भैंस प्रजनन केन्द्र – वल्लभनगर, उदयपुर।
  • गाय भैंस का कृत्रिम गर्भाधारण केन्द्र(फ्रोजन सिमन बैंक)
    • बस्सी, जयपुर
    • मण्डौर, जोधपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: © RajRAS