अरावली पर्वतीय प्रदेश

अरावली पर्वतीय प्रदेश

अरावली पर्वतीय प्रदेश | अरावली पर्वत श्रेणियाँ राजस्थान का एक विशिष्ट भौगोलिक प्रदेश है। अरावली विश्व की प्राचीनतम पर्वत श्रेणी है जो राज्य में कर्णवत उत्तर-पूर्व से दक्षिण-पश्चिम तक फैली है। ये पर्वत श्रेणियाँ उत्तर में देहली से प्रारम्भ होकर गुजरात में पालनपुर तक लगभग 692 किमी. की लम्बाई में विस्तृत है। अरावली पर्वतीय प्रदेश का विस्तार राज्य के सात जिलों- सिरोही, उदयपुर, राजसमंद, अजमेर, जयपुर, दौसा और अलवर में है।

अरावली पर्वत प्रदेश को तीन प्रमुख उप–प्रदेशों में विभक्त किया जाता है:

  • (अ) दक्षिणी अरावली प्रदेश
  • (ब) मध्य अरावली प्रदेश
  • (स) उत्तरी अरावली प्रदेश

(अ) दक्षिणी अरावली प्रदेश

  • इसके अंतर्गत राज्य के सिरोही, उदयपुर और राजसमंद जिले आते हैं।
  • इस पूर्णतया पर्वतीय प्रदेश में अरावली की श्रेणियाँ अत्यधिक सघन एवं उच्चता लिए हुए है। इसमें सिरोही जिले में माउन्ट आबू क्षेत्र में स्थित गुरुशिखर पर्वत (ऊँचाई 1722 मीटर)सर्वोच्च पर्वत शिखर है
  • यहाँ की अन्य प्रमुख उच्च पर्वत चोटियाँ
    • सेर (1597 मीटर)
    • अचलगढ़ (1380मीटर)
    • देलवाड़ा (1442मीटर)
    • आबू (1295 मीटर)
    • ऋषिकेश (1017मीटर)
  • उदयपुर-राजसमंद क्षेत्र के उच्च पर्वत शिखर
    • जरगा पर्वत (1431 मीटर)
    • कुम्भलगढ़ (1224मीटर)
    • लीलागढ़ (874मीटर)
    • कमलनाथ की पहाडियाँ (1001मीटर)
    • सज्जनगढ (938 मीटर)
  • उदयपुर के उत्तर-पश्चिम में कुम्भलगढ़ और गोगुन्दा के बीच का पठारी क्षेत्र ‘भोराट का पठार’ के नाम से जाना जाता है।

(ब) मध्य अरावली प्रदेश-

  • यह क्षेत्र मुख्यतः राज्य के अजमेर जिले में विस्तृत है।
  • इस क्षेत्र में पर्वत श्रेणियों के साथ संकीर्णघाटियाँ और समतल स्थल भी स्थित है।
  • अजमेर के दक्षिण-पश्चिम भाग में तारागढ़ (870 मीटर) और पश्चिम में सर्पिलाकार पर्वत श्रेणियाँ नाग पहाड़ (795मीटर) कहलाती हैं।
  • ब्यावर तहसील में अरावली श्रेणियों के चार दर्रे स्थित है
    • बर
    • परवेरिया और शिवपुर घाट
    • सूरा घाट दर्रा
    • देबारी

(स) उत्तरी अरावली प्रदेश-

  • इस क्षेत्र का विस्तार जयपुर, दौसा तथा अलवर जिलों में है।
  • इस क्षेत्र में अरावली की श्रेणियाँ अनवरत न होकर दर-दर होती जाती हैं। इनमें शेखावाटी की पहाडियाँ, तोरावाटी की पहाड़ियों तथा जयपुर और अलवर की पहाड़ियाँ सम्मलित हैं।
  • इस क्षेत्र में पहाड़ियों की सामान्य ऊँचाई 450 से 750 मीटर है।
  • इस प्रदेश के प्रमुख उच्च शिखर
    • सीकर जिले में रघुनाथगढ़ (1055मीटर)
    • अलवर में बैराठ (792 मीटर)
    • जयपुर में खो (920 मीटर)
  • अन्य उच्च शिखर जयगढ़, नाहरगढ़, अलवर किला और बिलाली है।

आगे पढ़ें:

2 thoughts on “अरावली पर्वतीय प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: © RajRAS