राष्ट्रीय तिलहन एवं ऑयल पॉम मिशन

राष्ट्रीय तिलहन एवं ऑयल पाम मिशन का मुख्य उद्देश्य तिलहन फसलों एवं वृक्ष जनित पौधों, खाद्यान्न की उत्पादकता में वृद्वि, गुणवत्ता में सुधार कर राज्य को खाद्य सुरक्षा में आत्मनिर्भर बनाना है। राजस्थान में इस मिशन के अन्तर्गत दो सब मिनी मिशन:

  • मिनी मिशन-I तिलहनी फसलों
  • मिनी मिशन-III वृक्ष जनित तिलहनी फसलों के लिए)

क्रियान्वित किए जा रहे हैं। इस मिशन की मुख्य गतिविधियां आधारभूत एवं प्रमाणित बीज का उत्पादन, प्रमाणित बीज का वितरण, फसल प्रदर्शन, समन्वित जीवनाशी प्रबन्धन, पौध संरक्षण रसायन, पौध संरक्षण उपकरण, जैव उर्वरक, जिप्सम, जल संवहन के लिए पाइन लाईन, कृषक प्रशिक्षण, कृषि सुधार, नवाचार, बीज उपचार ड्रम, फव्वारा सेट, मिनी किट वितरण तथा आधारभूत विकास आदि हैं।

भारत सरकार ने वर्ष 2015-16 में वित्त पोषण पैटर्न में परिवर्तन कर केन्द्रीयांश एवं राज्यांश का अनुपात 60:40 कर दिया है। वर्ष 2018-19 में 29.43 करोड़ के प्रावधान के विरूद्ध 25.06 व्यय किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: © RajRAS